भारत सरकार ने 1400 किमी लंबे “Green Wall” बनाने की योजन बनाई है

0
37
great green wall of india map

केंद्र सरकार गुजरात से दिल्ली-हरियाना सीमा तक 1,400 किमी लंबी और 5 किमी चौड़ी ग्रीन बेल्ट बनाने की योजना बना रही है। इस परियोजना के लिए एक औपचारिक नोड और विवरण प्राप्त करना बाकी है।

भारत में मरुस्थलीकरण और भूमि क्षरण बढ़ रहा है। ISRO द्वारा 2016 में प्रस्तुत की गई एक रिपोर्ट के अनुसार, गुजरात, राजस्थान और दिल्ली उन राज्यों में से थे, जहाँ कुल क्षेत्रफल का 50% से अधिक भूमि का क्षरण हुआ था और जो मरुस्थलीकरण के खतरे में थे।

आप मेरा अन्य लेख पढ़ सकते हैं: IIT मद्रास के शोधकर्ताओं की एक टीम ने 1st iro-ion बैटरी विकसित की है

वनों की कटाई का प्रस्तावित विचार न केवल अपमानित भूमि को बहाल करने में मदद करेगा, बल्कि पश्चिमी भारत और पाकिस्तान में रेगिस्तान से आने वाले धूल के तूफान के लिए एक बाधा के रूप में भी काम करेगा। भारत की great green wall बनाने का विचार भारत में संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन (UNCCD) के हालिया आयोजित सम्मेलन (COP14) के एजेंडे का एक हिस्सा है।

यह अफ्रीका की great green wall की प्रतिकृति होगी, जिसे लगभग एक दशक पहले शुरू किया गया था लेकिन वास्तविकता से अभी भी दूर है। यह परियोजना भारत के लिए 2030 तक 26 मिलियन हेक्टेयर नीच भूमि को बहाल करने के अपने लक्ष्य को पूरा करने के लिए भी महत्वपूर्ण है। भारत के पास वर्तमान में 96.4 MHA की निम्‍नकोटीकृत भूमि है जो देश के कुल भौगोलिक क्षेत्र का 29.3% है।

सूत्रों के अनुसार, भारत की great ‘Green Wall’ की बेल्ट निरंतर नहीं हो सकती है, लेकिन यह पूरी अरावली पहाड़ियों की सीमा और उससे आगे भी कवर करेगी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here